संस्थापक संदेश

श्री आस्तीक मुनि इण्टर कालेज कोरियां कानपुर नगर कानपुर से 53कि0मी0 एवं घाटमपुर से 13 कि0मी0 श्री आस्तीक मुनि मन्दिर के समीप स्थित है श्री आस्तीक मुनि के नाम से विद्यालय का नामकरण हुआ है। श्री आस्तीक मुनि के लिए पौराणिक प्रसिद्धि है कि जन्मेजय के द्वारा किए जा रहे सर्प यज्ञ का निवारण श्री आस्तीक मुनि के द्वारा किया गया था। इसीलिए श्री आस्तीक मुनि का नाम ग्रहण करने से सर्पभय समाप्त हो जाता है श्री आस्तीक मुनि मन्दिर के पास आने से सर्पग्रस्त व्यक्ति का विष समाप्त हो जाता है।
श्री आस्तीक मुनि इण्टर कालेज कोरियां कानपुर नगर कानपुर से 53कि0मी0 एवं घाटमपुर से 13 कि0मी0 श्री आस्तीक मुनि मन्दिर के समीप स्थित है श्री आस्तीक मुनि के नाम से विद्यालय का नामकरण हुआ है। श्री आस्तीक मुनि के लिए पौराणिक प्रसिद्धि है कि जन्मेजय के द्वारा किए जा रहे सर्प यज्ञ का निवारण श्री आस्तीक मुनि के द्वारा किया गया था। इसीलिए श्री आस्तीक मुनि का नाम ग्रहण करने से सर्पभय समाप्त हो जाता है श्री आस्तीक मुनि मन्दिर के पास आने से सर्पग्रस्त व्यक्ति का विष समाप्त हो जाता है।
श्री आस्तीक मुनि इण्टर कालेज कोरियां कानपुर नगर कानपुर से 53कि0मी0 एवं घाटमपुर से 13 कि0मी0 श्री आस्तीक मुनि मन्दिर के समीप स्थित है श्री आस्तीक मुनि के नाम से विद्यालय का नामकरण हुआ है। श्री आस्तीक मुनि के लिए पौराणिक प्रसिद्धि है कि जन्मेजय के द्वारा किए जा रहे सर्प यज्ञ का निवारण श्री आस्तीक मुनि के द्वारा किया गया था। इसीलिए श्री आस्तीक मुनि का नाम ग्रहण करने से सर्पभय समाप्त हो जाता है श्री आस्तीक मुनि मन्दिर के पास आने से सर्पग्रस्त व्यक्ति का विष समाप्त हो जाता है।